Monday, 9 July, 2012

कोहरे सी चादर लपेटे हूँ, पानी में खुद को समेटे हूँ...


No comments:

Post a Comment